Monday, August 27, 2018

अद्धभुत दिव्य अनुभव


             ध्यान अवस्था में अद्धभुत दिव्य अनुभव
                                -----------
            क्या दिव्य अनुभव है साफ ध्यान अन्तर्मुखि होते हुए, 1.  हम आन्तरिक दिव्य ब्रह्माड में Galaxy को अवलोकन कर रहे हैं ध्यान बिल्कुल साफ है मानो Galaxy समेत समस्त ब्रह्मांड एकदम तेज गति से घूम गया, जिसने 10 second में एक पूर्ण चक्र लगाया ।
 2.  अब जैसा कि चित्र में दर्शाया गया है एक गरूड जैसे बहुत बडे आकार के पक्षी नें आकर एकदम, इस Galaxy को जकड कर अपनी पंखडियों के बीच दबा लिया और Galaxy का चक्र एकदम रुक गया मानों power-brake लगा दिया हो। ध्यान रहे "शास्त्रानुसार गरूड जी, श्री विष्णु भगवान जी के वाहन हैं "। यह दर्शाते हुए मुझे भी बहुत अजीब सा लग रहा है पर अनुभव तो अनुभव है। प्रभू कृपा होते हुए, दिव्यत्ता को मध्य नजर रखते हुए दिव्य अनुभव कुछ भी हो सकता है प्रभू कृपा अनुसार हमें जो दिव्य अनुभव हुआ उसे नीचे दर्शाया गया है।
         *प्रभू जी हम सब पर कृपा बनाए रखें*

                         Om Namo Narayana

                     
   
                             दास अनुदास रोहतास

Wednesday, August 15, 2018

* ATOM * ATOM ACTIVATION IN SPACE *


               Atom Activation in Space
                           --------------------

           On the special Grace of God, We observe Supreme Atom, during meditation in the Space as we Show in No - 7, like a smallest & btillient Star very clearly.

                          *  ATOM  *

                          
                                *****
Re Atom activation during meditation
                       Given below



8.                   Realization Hydrogen Atom's orbitals, electron wave during meditation at 4-00 am on 21-8-18 giving below in image in bedroom.

                                ATOM's
 
                 
                             
                             ********
9. Realization in meditation Waves of Atoms

                   

                        N+P+E................ H 

 ***********

10.  " ATOM  SELF "  in motion, coming down. A divine observation in meditation                                                
      

   ***********
11. Now here is SUPREME TATAV Supreme Soul completely Divine like a brilliant & "sparking" Star and Super-Diamond.
*Divinity is here*

     SUPREME TATAV
     *****
   

What a wonderful Supreme Atom's activation- realization in Space during meditation divinely.

Specialty:--------                                             
Scientifically and Spiritually both Soul, आत्म and Atom's activation seems equal in realization during meditation in internal divine Universe as showing above.


आत्म - Atom
अध्यात्म
अध्यन + आत्म 
आत्मिक बोध
*****
जय श्री कृष्णा  जय श्री राम
---------
जय हिन्द जय भारत
 *****
Om Namo Narayana
 ..........
ॐ तत् सत्
  ******
  ***
  **
  *